Air Conditioner में टन का क्या होता है मतलब, समझ लेंगे तो खरीदने मे होगी आसानी

ViralUnzip
3 Min Read

इन दिनों के देश के कई इलाकों में भीषण गर्मी पड़ रही है। इस गर्मी से लोगों के हाल बेहाल हैं। ऐसे में लोग कूलर, पंखा, एयर कंडीशनर (Air Conditioner – AC) खरीदना शुरू कर देते हैं। अगर आप भी AC खरीदने की तैयारी कर रहे हैं तो इसके पहले AC में टन शब्द शामिल रहता है। इस झमेले को समझना बहुत जरूरी है। अगर आपने इस टन की गणित को समझ लिया तो फिर AC खरीदना आसान हो जाएगा। टन के हिसाब से ही एसी खरीदना चाहिए। लोगों को ये पता होता है कि ज्यादा टन का एसी होगा तो कमरा ज्यादा ठंडा करेगा। लेकिन क्या यह जानकारी सही है? आखिर एसी में टन का क्या मतलब होता है।

कई लोगों को लगता है कि AC में टन का मतलब उसका वजन होता है। जबकि ऐसा नहीं है। टन वह यूनिट है, जिसका मतलब कूलिंग कैपेसिटी से होता है। अब आपको लग रहा टन के जरिए कूलिंग कैपेसिटी कैसे मापी जा सकती है। इसे प्रति घंटे ब्रिटिश थर्मल यूनिट के जरिए मापा जाता है। इसे आम तौर पर BTU/घंटे के तौर पर दर्शाया जाता है। एयर कंडीशनर के लिए BTU, 5000 से 24000 BTUs और 12000 BTUs 1 टन के बराबर है।

टन को आसान भाषा में समझें

एयर कंडीशनिंग के मामले में, “टन” शब्द का मतलब एयर कंडीशनिंग यूनिट की कमरे या हाल को ठंडा करने की कैपेसिटी से होता है। इसे आसान भाषा में ऐसे समझें कि जितना ज्यादा टन का एसी होगा। वह उतने ही बड़े एरिया को ठंडा कर सकेगा। 1 टन के एसी का मतलब है कि यह आपके कमरे को 1 टन बर्फ जितनी ठंडक देगा। जबकि 2 टन के एसी आपके कमरे को 2 टन बर्फ जितनी ठंडक देगा। कुल मिलाकर अगर आपके कमरे का साइज बड़ा है तो आपको ज्यादा टन का एयर कंडीशनर लेना होगा। अगर कमरे का साइज छोटा है तो आपको कम टन का ही एसी लेना है।

किस कमरे के लिए कितने टन का AC चाहिए?

अगर आपके कमरे का साइज 150 वर्ग फुट तक है तो आपके लिए, 1 टन का एसी काफी होगा। 150-250 वर्ग फुट के साइज के कमरे के लिए 1.5 टन एसी की जरूरत पड़ती है। 250-400 वर्ग फुट के साइज कमरे के लिए 2 टन एसी की जरूरत होगी। 400-600 वर्ग फुट साइज के कमरे के लिए 3 टन एसी ठीक रहेगा। वहीं अगर आपके कमरे का साइज 600-800 वर्ग फीट है तो आपको बेहतर ठंडक के लिए 4 टन एसी की जरूरत होगी।

Air Conditioner: AC को कर दें इस टेंपरेचर पर सेट, बिजली बिल हो जाएगा कम, आजमा लीजिए ये टिप्स

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *