Nazara Tech के मुनाफे में तगड़ी गिरावट, इस कारण मार्च तिमाही में दिखा दबाव

ViralUnzip
4 Min Read

मोबाइल गेम डेवलपर और स्पोर्ट्स मीडिया कंपनी नजारा टेक (Nazara Tech) के लिए मार्च तिमाही बहुत बुरी रही। इसका मुनाफा सालाना आधार पर 9.4 करोड़ रुपये से गिरकर महज 18 लाख रुपये पर आ गया। नजारा टेक के मुनाफे में मार्च तिमाही में इसलिए गिरावट आई क्योंकि मार्च तिमाही में जो कारोबार बंद हुए, उससे कंपनी को 16.87 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। इस दौरान कंपनी के रेवेन्यू में 8 फीसदी की गिरावट आई और यह 289.3 करोड़ रुपये से गिरकर 266.2 करोड़ रुपये पर आ गया। हालांकि पूरे वित्त वर्ष 2024 की बात करें तो नजारा का मुनाफा 21.8 फीसदी उछलकर 74.75 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। वित्त वर्ष 2024 में रेवेन्यू 4.3 फीसदी उछलकर 1,138.3 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

सबसे अच्छा परफॉरमेंस ईस्पोर्स्ट्स का

नजारा का कारोबार कई सेगमेंट में फैला हुआ है। मार्च तिमाही में इसके लिए सबसे बेहतर eSports रहा जिसका रेवेन्यू सालाना आधार पर 6 फीसदी उछलकर 148.2 करोड़ रुपये और मुनाफा 87 फीसदी उछलकर 8.82 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। Nodwin Gaming का रेवेन्यू 8.7 फीसदी गिरकर 99.1 करोड़ रुपये जबकि स्पोर्ट्सकीड़ा (Sportskeeda) का रेवेन्यू 67 फीसदी उछलकर 49 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। नजारा के गेमिंग कारोबार का रेवेन्यू मार्च तिमाही में 17 फीसदी गिरकर 91.1 करोड़ रुपये पर आ गया और पिछले साल की समान तिमाही में 10.3 करोड़ रुपये के मुनाफे से इस साल की मार्च तिमाही में यह 18.45 रुपये के घाटे में आ गई। मार्च तिमाही में Kiddopia बिजनेस का रेवेन्यू 11.8 फीसदी घटकर 50.9 करोड़ रुपये रह गया। इसका कस्टमर बेस घटकर तिमाही आधार पर 2,73,249 से घटकर 2,55,382 रह गया।

एनिमल जैम बिजनेस से इसका कारोबार बढ़कर 24 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। इसके रियल-मनी गेमिंग बिजनेस का रेवेन्यू सालाना आधार पर मार्च तिमाही में 12.6 फीसदी से गिरकर 4.8 करोड़ रुपये पर आ गया। इस कारोबार को जीएसटी के 28 फीसदी सिस्टम के चलते झटका लगा जो 1 अक्टूबर 2023 से लागू हुआ है। कंपनी के मुताबिक जीएसटी की अधिक दर और प्लेयर्स को बोनस, दोनों ने मिलकर नेट रेवेन्यू में कटौती कर दी। इसके एडटेक बिजनेस का रेवेन्यू 29.5 फीसदी गिरकर 27.5 करोड़ रुपये पर आ गया। वित्त वर्ष 2024 में कंपनी को भारत से 45 फीसदी, उत्तरी अमेरिकी से 39 फीसदी और बाकी देशों से 16 फीसदी रेवेन्यू हासिल हुआ।

Nazara Tech की क्या है स्ट्रैटेजी

नजारा टेक के स्ट्रैटेजी की बात करें तो यह नजारा केन्या, नजारा प्रो, डिजिटल एंटरटेनमेंट फर्म क्रिमजोन और स्पोर्ट्स यूनिटी में अपनी हिस्सेदारी बेच रही है। इसके अलावा नजारा सिंगापुर और मलेशिया को लेकर भी ऐसी ही योजना बन रही है। इससे टेल्को बिजनेस जितनी भी नगदी जेनेरेट करेगी, उससे सीधे पैरेंट कंपनी को फायदा मिलेगा। अभी इसका कारोबार तीन सेक्टर में फैला है-गेमिंग (वर्ल्ड क्रिकेट चैंपियनशिप, किड्डोपिया, एनिमल जैम, क्लासिक रमी इत्यादि), ईस्पोर्ट्स (नोडविन गेमिंग, स्पोर्स्ट्सकीड़ा) और एडवरटाइजिंग (डेटावर्क्ज)।

मोबाइल गेमिंग सब्सिडियरी नेक्स्टवेव मल्टीमीडिया में यह अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 100 फीसदी करने वाली है। वर्ल्ड क्रिकेट चैंपियनशिप फ्रेंचाइजी की डेवलपर नेक्स्टवेव मल्टीमीडिया में सबसे पहले 2018 में नजारा टेक ने हिस्सेदारी खरीदी थी जिसे मई 2023 तक नजारा ने बढ़ाकर 71.88 फीसदी कर लिया। अब किश्तों में बाकी 28.12 फीसदी हिस्सेदारी यह 21.63 करोड़ रुपये में खरीद रही है।

Nephro Care India ला रही IPO, ₹35-40 करोड़ जुटाने की करेगी कोशिश

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *