Hero FinCorp पर RBI ने लगाया ₹3.1 लाख का जुर्माना, कंपनी ने क्या की चूक

ViralUnzip
2 Min Read

RBI Penalty on Hero Fincorp: भारतीय रिजर्व बैंक ने नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC) हीरो फिनकॉर्प पर 3.1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। फेयर प्रैक्टिसेज कोड से जुड़े कुछ प्रावधानों का अनुपालन न करने के लिए यह जुर्माना लगाया गया है। हालांकि RBI ने कहा कि जुर्माना रेगुलेटरी अनुपालन में कमियों पर बेस्ड है और यह कंपनी के अपने ग्राहकों के साथ किए गए किसी भी लेनदेन या समझौते की वैधता को प्रभावित नहीं करता है।

दरअसल हीरो फिनकॉर्प ने कर्ज लेने वालों को उनके द्वारा समझी जाने वाली स्थानीय भाषा में लोन के नियम और शर्तों के बारे में लिखित रूप में नहीं बताया था। कंपनी की वित्तीय स्थिति को लेकर इसका वैधानिक निरीक्षण RBI ने 31 मार्च, 2023 को किया था।

कारण बताओ नोटिस भी हुआ था जारी

RBI के निर्देशों और उस संबंध में पत्राचार का नॉन-कंप्लायंस सामने आने के बाद हीरो फिनकॉर्प को एक कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था। भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि नोटिस के बाद कंपनी के जवाब पर विचार करने और व्यक्तिगत सुनवाई के आधार पर RBI ने पाया कि कंपनी के खिलाफ आरोप कायम थे और ऐसे में मौद्रिक जुर्माना लगाना जरूरी था।

हीरो फिनकॉर्प को दिसंबर 1991 में हीरो होंडा फिनलीज लिमिटेड के रूप में शुरू किया गया था। यह टू-व्हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प की फाइनेंशियल सर्विसेज आर्म है। हीरो फिनकॉर्प कई तरह के फाइनेंशियल सॉल्यूशंस ऑफर करती है, जिनमें टू-व्हीलर फाइनेंसिंग, अफोर्डेबल हाउसिंग सेगमेंट में घर खरीदने के लिए एडवांस, एजुकेशन लोन और स्मॉल और मीडियम एंटरप्राइज को लोन देना शामिल है। कंपनी की भारत भर में 4000 से अधिक शहरों और कस्बों में मौजूदगी है और हीरो मोटोकॉर्प के नेटवर्क के अंदर लगभग 2,000 रिटेल फाइनेंसिंग टचप्वाइंट हैं। कंपनी 4000 करोड़ रुपये का आईपीओ लाने की तैयारी कर रही है।

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *