Share Markets Next Week: क्या निफ्टी और बैंक निफ्टी में लगातार तीसरे हफ्ते जारी रहेगी तेजी? एक्सपर्ट्स से जानें खरीदारी की रणनीति

ViralUnzip
4 Min Read

Share Market Next Week: शेयर बाजार 24 मई को समाप्त हुए सप्ताह में लगातार दूसरे हफ्ते बढ़त के साथ बंद हुआ। इस दौरान सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने अपना अबतक का सबसे उच्चतम स्तर छुआ। हालांकि निफ्टी 23,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर को बनाए रखने में विफल रहा। टेक्निकल एनालिस्ट्स का कहना है कि निफ्टी ने एक बार फिर वीकली चार्ट पर लॉन्ग बुलिश कैंडलस्टिक पैटर्न बनाया है और अपने सभी अहम मूविंग एवरेज से ऊपर कारोबार कर रहा है। रिलेटिव स्ट्रेंथ इंडेक्स (RSI) में 67.26 अंक पर एक पॉजिटिव क्रॉसओवर देखा गया है।

एनालिस्ट्स का मानना ​​है कि अगर सूचकांक 23,000 से ऊपर बंद होता है और टिका रहता है, तो फिर इसके लिए अगला रेजिस्टेंस, राइजिंग चैनल का ऊपरी बैंड (23,100-23,200) होगा। इसे पार करने पर निफ्टी के 23,500 तक जाने के दरवाजे खुल सकते हैं। वहीं नीचे की ओर इसे 22,800 पर मजबूत सपोर्ट होगा।

24 मई को समाप्त हुए कारबोरी हफ्ते में निफ्टी इंडेक्स 455 अंक या 2 प्रतिशत बढ़कर 22,957 पर बंद हुआ। इस बीच, बैंक निफ्टी (Bank Nifty) ने 1.6 प्रतिशत की तेजी दर्ज की और अपने अबतक के सबसे ऊंचे स्तर 48,972 पर बंद हुआ। आइए जानते हैं कि अगले हफ्ते निफ्टी और बैंक निफ्टी के लिए एक्सपर्ट्स ने क्या रणनीति अपनाने की सलाह दी है-

निफ्टी के लिए रणनीति:

एक्सिस सिक्योरिटीज (Axis Securities) के राजेश पालवीय की स्ट्रैटजी:

निफ्टी को 23,200 और 23,350 के स्तर पर रेजिस्टेंस का सामना करना पड़ेगा। वहीं नीचे की ओर इसे 22,800 और फिर 22,650 पर अहम सपोर्ट है। ऐसे में अभी रणनीति निफ्टी को 22,900 के पास खरीदने और 23,200 फिर 23,400 पर टारगेट रखने की होनी चाहिए। स्टॉप लॉस को 22,750 पर बनाकर रखें।

एंजल वन (Angel One) के राजेश भोसले की स्ट्रैटजी:

निफ्टी को 23150, 23230 और 23,310 के स्तर पर रेजिस्टेंस का सामना करना पड़ेगा। वहीं नीचे की ओर इसे 22900, 22780 और फिर 22,620 पर अहम सपोर्ट है। ऐसे में गिरावट आने पर 22,800 के करीब निफ्टी को खरीदने और 23,200 पर मुनाफावसूली करने की रणनीति अपनानी चाहिए। स्टॉप लॉस को 22,780 पर बनाकर रखें।

HDFC सिक्योरिटीज के विनय रजानी की स्ट्रैटजी:

निफ्टी को 23,500 और 23,900 के स्तर पर रेजिस्टेंस का सामना करना पड़ेगा। वहीं नीचे की ओर इसे 22,800 और फिर 22,400 पर अहम सपोर्ट है। ऐसे में अभी रणनीति निफ्टी को 22,950 पर खरीदने और 23,500 का टारगेट रखने की होनी चाहिए। स्टॉप लॉस को 22,700 पर बनाकर रखें।

बैंकनिफ्टी के लिए रणनीति

एंजल वन (Angel One) के राजेश भोसले की स्ट्रैटजी:

बैंकनिफ्टी को 49,200 और 49,400 के स्तर पर रेजिस्टेंस का सामना करना पड़ेगा। वहीं नीचे की ओर इसे 48,700 और फिर 48,550 पर अहम सपोर्ट है। ऐसे में अभी रणनीति बैंक निफ्टी को 48,80 के पास खरीदने और 49,400 फिर 49,500 का टारगेट रखने की होनी चाहिए। स्टॉप लॉस को 48,650 पर बनाकर रखें।

HDFC सिक्योरिटीज के विनय रजानी की स्ट्रैटजी:

बैंक निफ्टी को 49,350 और 49,974 के स्तर पर रेजिस्टेंस का सामना करना पड़ेगा। वहीं नीचे की ओर इसे 48,200 और फिर 47,435 पर अहम सपोर्ट है। ऐसे में अभी रणनीति निफ्टी को 48,950 पर खरीदने और 49,950 का टारगेट रखने की होनी चाहिए। स्टॉप लॉस को 48,200 पर बनाकर रखें।

यह भी पढ़ें- Phoenix Mills Shares: ₹36000 बने ₹1 करोड़, तेजी से बढ़ रहा कारोबार, फिर भी एक्सपर्ट ने बनाई दूरी

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *